NHPC Blog

एनएचपीसी के विभिन्न क्षेत्रीय कार्यालयों में विश्व पर्यावरण दिवस 2020 के आयोजन की झलकियां

क्षेत्रीय कार्यालय, बनीखेत

क्षेत्रीय कार्यालय बनीखेत में  विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया |कार्यक्रम में पौधारोपण के साथ सन्देश दिया गया कि विश्व पर्यावरण दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य प्रकृति की रक्षा के लिए जागरूकता बढ़ाना तथा लोगों को पर्यावरण की सुरक्षा के प्रति जागरूक और सचेत करना है । जैव विविधता को बनाए रखने के लिए  धरती के पर्यावरण का संरक्षण महत्वपूर्ण है। प्रकृति के साथ सद्‍भाव में रहना ही धरती पर भयावह स्थिति से बचने का एकमात्र तरीका है तथा अधिक से अधिक वृक्ष लगा के प्रकृति को हरा–भरा बनाए रखने में योगदान देना चाहिए ।

 

क्षेत्रीय कार्यालय, चंडीगढ़

क्षेत्रीय कार्यालय चंडीगढ़ में विश्व पर्यावरण दिवस, कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए सामाजिक दूरी के सभी मानदंडों को ध्यान में रखते हुए मनाया गया। इस अवसर पर क्षेत्रीय कार्यालय चंडीगढ़ के आवासीय परिसर सेक्टर 42 ए में पौधरोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया एवं समस्त अधिकारियों द्वारा पौधे लगाकर पर्यावरण संरक्षण का सन्देश दिया गया।

 

 

क्षेत्रीय कार्यालय, जम्मू

क्षेत्रीय कार्यालय जम्मू में उत्साह के साथ विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन किया गया। पौधारोपण के द्वारा पर्यावरण को और बेहतर करने की दिशा में जागरूकता फैलाई गई। पर्यावरण संरक्षण सबका कर्तव्य है। घरों में छोटे-छटे इनडोर पौधे लगाकर भी वातावरण को स्वच्छ बनाए रखा जा सकता है। पर्यावरण के अनुकूल पौधे लगा के उन पौधों का ध्यान रखना भी जरूरी है। उपस्थित लोगों को वृक्षारोपण के महत्व के बारे में बताते हुए आस-पास के वातावरण को स्वच्छ बनाए रखने हेतु प्रेरित किया गया।

 

 

Regional Office , Siligudi

‘World Environment Day, 2020’ was observed in Regional Office (RO), Siliguri with the Theme, ‘Celebrating Biodiversity’ which signifies a concern that is both urgent and existential in the context of COVID-19, the extant global disease pandemic. ‘Celebrating Biodiversity’ demonstrates the interdependence of humans and the webs of life, in which they exist. 

 

Environment Day was observed in RO, Siliguri in ‘Miyawaki’ way by initiating forestation in the campus of RO in a unique way. ‘Miyawaki’ is a technique pioneered by Japanese Botanist Shri Akira Miyawaki helping to build dense and native forest in Urban areas by planting native species in a selected area. After the initial care, the plantation becomes maintenance-free after three years. The occasion, highlighted the uniqueness of ‘Miyawaki’ Method and gave thrust on NHPC’s commitment towards Environment. A total of 176 Saplings were planted and the varieties of plants used to form canopies of varied heights (Long, Medium and Short) were, Bakul (Mimusops Elengi) , Amla (Phyllanthus Emblica), Guava (Psidium Guajava) , Neem (Azadirachta Indica) and Tagar (Valeriana Jatamansi) respectively. 

 

 

 

Category:  Environment


 |    June 20, 2020 |   0 comment

एनएचपीसी की उत्तराखंड स्थित परियोजनाओं में विश्व पर्यावरण दिवस 2020 के आयोजन की झलकियां

धौलीगंगा पावर स्टेशन

धौलीगंगा पावर स्टेशन द्वारा कार्यालय परिसर व इसके समीपवर्ती गाँव तपोवन छिरकिला बांध परिसर में जनसामान्य और ग्रामीण बालक-बालिकाओं के साथ मिलकर बांध परिसर के पास के ग्राम खेत के राजकीय अन्तर कॉलेज परिसर में भी फलदार पौधे लगाकर पर्यावरण संरक्षण का सन्देश दिया गया।विश्व पर्यावरण दिवस समारोह के द्वारा पर्यावरण संरक्षण हेतु जनसहभागिता पर बल देते हुए प्रकृति को बचाए व बनाए रखने की अपील की गई।कार्यक्रम के दौरान कोरोना संक्रमण (कोविड-19) से बचाव के दृष्टिगत गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए सामाजिक दूरी का पूर्णतया पालन किया गया।

 

कोटलीभेल जलविद्युत परियोजना

कोटलीभेल (चरण-1ए) जलविद्युत परियोजना द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस-2020 का आयोजन हर्षोल्लास के साथ संपन्न किया गया।कोरोना संक्रमण (कोविड-19) से बचाव के दृष्टिगत गृह मंत्रालय भारत सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए एक सेमिनार (संगोष्ठी) का आयोजन भी किया गया।सेमिनार के माध्यम से पर्यावरण संबंधी मुद्दे, पृथ्वी पर मानव जाति के अस्तित्व और उसके समस्त क्रियाकलापों से जुड़ी होने के कारण पर्यावरण संरक्षण के प्रति “वन” व “वन्य प्राणियों” की सुरक्षा, धरती को स्वच्छ एवं प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए पोलिथीन / प्लास्टिक कचरे के अलावा अजैविक कचरे को उचित ठिकाने लगाने व भूःस्खलन, वन्य-संरक्षण, झीलों, नदियों और वन्य जीव-जंतुओं के संरक्षण के माध्यम से पर्यावरण की रक्षा करने की ओर विशेष बल दिया गया। पर्यावरण संरक्षण हेतु पौधरोपण, जल संरक्षण और प्रदूषण नियंत्रण के प्रति कटिबद्धता हेतु कार्मिकों को प्रतिज्ञा दिलाई गई । सेमिनार के पश्चात सभी कार्मिकों द्वारा वृक्षारोपण किया गया और सभी उपस्थित जनों को एक पौधा भी भेंट किया गया।

 

टनकपुर पावर स्टेशन

टनकपुर पावर स्टेशन में विश्व पर्यावरण दिवस – 2020 उत्साहपूर्वक पौधारोपण के साथ मनाया गया ।समारोह में विगत कुछ सालों में बढ़ते पर्यावरण प्रदूषण से उत्पन्न विभिन प्रकार के आपदाओं पर चर्चा करते हुए इसके समाधान हेतु अधिकाधिक पौधों को लगाकर उनके देखभाल की अपील की गई । इस अवसर पर कोविड 19 से उत्पन्न महामारी से मानव अस्तित्व पर संकट एवं सरकार द्वारा लगाए गए लॉकडाउन से पर्यावरण में हुए सुधार पर भी चर्चा की गई। जैव-विविधता एवं पर्यावरण संरक्षण हेतु विशेष तौर पर औषधीय पौधों के संरक्षण तथा विकास पर बल दिया गया। प्राकृतिक संसाधनों के अत्यधिक दोहन से उत्पन्न समस्याओं पर प्रकाश डाला गया।जैव-विविधता एवं पर्यावरण संरक्षण को शक्तिशाली बनाने हेतु अधिकाधिक पौधरोपण करने की प्रतिबद्धतता के साथ आवासीय परिसर में रुद्राक्ष के पौधे के अलावा औषधीय व फलदार (लीची, आम, नींबू, नीम, कचनार, तेजपात,करौंदा आदि ) के करीब 30 पौधौं का रोपण किया गया ।इस कार्यक्रम के दौरान केंद्र सरकार द्वारा जारी कोविड -19 के दिशा-निर्देशों का अनुपालन करते हुए सामाजिक दूरी का ध्यान रखा गया ।

 

श्री मनोज कुमार कुशवाहा, वरिष्ठ प्रबन्धक (पर्यावरण) द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस की आवश्यकता तथा जैव-विविधता, कोरोना संक्रामण, स्वच्छता एवं कचरा प्रबंधन पर लोगों को जागरूक किया गया।उनके द्वारा जैव-विविधता, पर्यावरण संरक्षण एवं स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न उपायों पर चर्चा की गई ताकि आने वाली पीढ़ी को स्वस्थ एवं समृद्ध पर्यावरण उपलब्ध कराया जा सके ।

Category:  Environment


 |    June 20, 2020 |   0 comment

एनएचपीसी की पूर्वोत्तर स्थित परियोजनाओं में विश्व पर्यावरण दिवस 2020 के आयोजन की झलकियां

दिबांग बहुद्देशीय परियोजना

दिबांग बहुद्देशीय परियोजना, रोइंग में विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन परियोजना के सभी वरिष्ठ अधिकारियों और कर्मचारियों द्वारा वृक्षारोपण अभियान के साथ शुरू हुआ। वृक्षारोपण कार्यक्रम  कार्यालय प्रांगण में उचित सामाजिक दूरी और कोविड 19 से बचाव के लिए दिए गए दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए संपन्न हुआ। कार्यक्रम में पारिस्थितिकी तंत्र हेतु जैवविविधता के महत्व पर प्रकाश डाला गया एवं सभी को पर्यावरण के प्रति सजग तथा संवेदनशील रहने का आग्रह किया गया। साथ ही एनएचपीसी द्वारा जैवविविधता के संरक्षण हेतु उठाए गए क़दमों एवं भविष्य की योजना के बारे में भी अवगत कराया गया ।

 

 

रंगित पावर स्टेशन

रंगित पावर स्टेशन में “जैवविविधता ” थीम के साथ विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जैवविविधता पर जानकारी देते हुए बताया गया कि जीव -जंतुओं एवं वनस्पतियों की विभिन्न प्रजातियां पृथ्वी की जैवविविधता और पर्यावरण का निर्माण करती हैं। जैवविविधता को बनाए रखने के लिए आस-पास के पर्यावरण को स्वच्छ रख कर उसका संरक्षण व संवर्धन आवश्यक है। कार्यक्रम के दौरान कोविड 19 के मद्देनजर सरकार के द्वारा जारी सारे दिशानिर्देशों जैसे कि सामाजिक दूरी , मास्क पहनना इत्यादि का अनुपालन करते हुए पौधरोपण किया गया। विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में जैवविविधता थीम पर कार्मिकों के बच्चों के लिए घर से चित्रांकन प्रतियोगिता का आयोजन कर विजेताओं को पुरस्कृत किया गया।

 

 

सुबनसिरी लोअर जलविद्युत् परियोजना

सुबनसिरी लोअर जलविद्युत् परियोजना, गेरुखामुख में विश्व पर्यावरण दिवस अत्यंत उत्साह केसाथ मनाया गया जिसमें पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रतिबद्धता दिखाई गई। विश्व पर्यावरण दिवस की थीम जैवविविधता के प्रति जागरूकता और पर्यावरणीय संरक्षण के प्रति प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से परियोजना के विभिन्न स्थानों पर बैनर के माध्यम से प्रदर्शन किया गया।सुबनसिरी लोअर जलविद्युत् परियोजना, गेरुखामुख में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर दो अलग अलग स्थानों पर पौधरोपण किया गया जिसमें नीम एवं अशोक के पौधे लगाए गए।

 

“जैवविविधता और पर्यावरण संरक्षण ” के बारे में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से श्री शशि पाल सिंह, वरिष्ठ प्रबंधक (पर्यावरण ) द्वारा केंद्रीय विद्यालय गेरुखामुख के वरिष्ठ कक्षाओं के छात्र छात्राओं के लिए वेबिनार के माध्यम से लेक्चर का आयोजन किया गया। इसके माध्यम से प्रकृति के संतुलन को बनाए रखने के लिए जैवविविधता के महत्व, इसकी क्षति और संरक्षण के विभिन्न उपायों के बारे में छात्र-छात्राओं को जागरूक किया गया।

 

कार्यक्रम के दौरान प्रतिभागियों द्वारा गृह मंत्रालय , भारत सरकार और असम सरकार द्वारा कोविड 19 प्रबंधन केलिए समय समय पर जारी दिशानिर्देशों का पूर्णतया पालन किया गया।

 

 

Teesta-V & Teesta-Vl Power Station

Teesta-V Power Station & Teesta-VI HE Project organized World Environment Day at Balutar East Sikkim. As part of observance, more than 150 tree saplings were planted by the employees and their family members in Residential Colony at Balutar & Barrage Complex at Sherwani with the theme of World Environment Day-2020 ‘Celebrating Biodiversity’- a concern that is urgent and existential. The symbiotic relationship between human and other species was addressed. Awareness on protection of Biodiversity was promoted on the occasion. It was said that Global Corona Virus Pandemic act as reminder that human health is linked to clean & healthy environment.  The practice of Reduce, Reuse and Plant tree saplings in surroundings was encouraged.  

Category:  Environment


 |    June 20, 2020 |   0 comment

एनएचपीसी की हिमाचल प्रदेश स्थित परियोजनाओं में विश्व पर्यावरण दिवस 2020 के आयोजन की झलकियां

चमेरा-। पावर स्‍टेशन

चमेरा पावर स्‍टेशन-।, खैरी में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर पौधारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।हर्बल पार्क में जामुन का पौधा लगाकर इस पौधारोपण कार्यक्रम की शरुआत की गई। पर्यावरण को बचाने एवं सँवारने की अपील करते हुए धरती पर मानव जीवन तथा मानवता को बचाने के लिए पर्यावरण संरक्षण के महत्व पर चर्चा की गई। वर्तमान में घटित हो रही प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षा के लिए पर्यावरण का संरक्षण करने पर बल दिया गया। कार्यक्रम के दौरान कोविड 19 से बचाव हेतु सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन करते हुए उचित सामाजिक दूरी बनाई रखी गई एवं मास्क का प्रयोग किया गया।

 

 

चमेरा-।। पावर स्‍टेशन

चमेरा -II पावर स्टेशन, करिया में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर कालोनी परिसर में स्थित हर्बल पार्क में पौधारोपण के कार्यक्रम का आयोजन किया गया।पौधारोपण के दौरान विभिन्न प्रजाति के 100 पौधे लगाए गए जिसमें अनार, खुमानी, जामन, प्लम आदि के पौधे सम्मिलित थे। इस अवसर पर वर्तमान परिदृश्य में पर्यावरण संरक्षण को लेकर एनएचपीसी एवं भारत सरकार तथा राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों पर चर्चा की गई। पर्यावरण को बनाए व बचाए रखने हेतु पूर्ण सहयोग देने की अपील की गई ताकि भावी पीढी को एक स्वस्थ व प्रदूषण मुक्त पर्यावरण प्रदान किया जा सके । चमरा-II पावर स्टेशन द्वारा हर्बल पार्क में जैवविविधता संरक्षण के तहत पौधारोपण के दौरान चिड़ियों के लिए घौसलों का निर्माण किया गया तथा उनके आहार –पानी की व्यवस्था की गई ।कार्यक्रम के दौरान कोविड 19 हेतु जारी निर्देशों का पालन करते हुए सभी कर्मचारियों ने उचित दूरी बनाए रखा एवं मास्क का प्रयोग किया ।

 

 

पारबती-II जल विद्युत परियोजना

पारबती-II जल विद्युत परियोजना,नगवाईं में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर पर्यावरण संरक्षण एवं संवर्धन हेतु कर्मचारियों को शपथ दिलाई गई एवं पौधारोपण किया गया।परियोजना की विभिन्न इकाइयों पर पौधारोपण किया गया जिसकेअंतर्गत फलदार पौधे लगाए गए। श्री प्रताप कुमार मालिक, वरिष्ठ प्रबंधक (पर्यावरण) द्वारा उपस्थित जनसमूह को जानकारी देते हुए बताया गया कि इस वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस का थीम “जैव विविधता” है जिसका उद्देश्य पादपों और जीव-जंतुओं के संरक्षण पर केंद्रित है। कार्यक्रम के दौरान सामाजिक दूरी का ध्यान रखा गया ।

 

 

पारबती-III पावर स्टेशन

पार्बती-III पावर स्टेशन, बिहाली में “विश्व पर्यावरण दिवस” के अवसर पर सपांगनी स्थित आवासीय परिसर में लगभग सौ फलदार व औषधीय पौधों का रोपण किया गया। इस आयोजन को “अपना पेड़” अभियान के रूप में आयोजित किया गया।इसके साथ ही पावर स्टेशन द्वारा पहले से सडक के किनारे लगे हुए पौधों के अनुरक्षण के उद्देश्य से “ट्री गार्ड “ लगाने के अभियान का शुभारम्भ किया गया । इस अभियान में कुल 60 पौधों के लिए “ट्री गार्ड” का प्रावधान किया गया। अपने आस-पास की जैविक सम्पदा का संरक्षण कर पृथ्वी के पर्यावरण को और अधिक स्वच्छ व स्वस्थ बनाने हेतु लगातार प्रयास करते रहने की अपील की गई।

 

पर्यावरण दिवस के शुभावसर पर पावर स्टेशन द्वारा कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ रह “कोरोना योद्धाओं” जिसमें स्थानीय पुलिसकर्मी , एनएसएस के छात्रगण व सैंज व्यापार मण्डल शामिल हैं, को सुरक्षा किट : 200 मास्क , 40 जोड़ी गलब्स , 5 लीटर सैनीटाईजर, 3 स्प्रे बोतल व 15 लीटर सोडियम हाईपोक्लोराईड आदि समाहीत रूप से प्रदान किया गया।कार्यक्रम के दौरान सामाजिक दूरी बनाए रखा गया ।

 

बैरास्यूल पावर स्टेशन

बैरास्यूल पावर स्टेशन, सुरंगानी में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर वृहत वृक्षारोपण किया गया। विश्व पर्यावरण दिवस के विषय जैवविविधता पर चर्चा करते हुए उपस्थित लोगों से पर्यावरण संरक्षण हेतु बढ़-चढ़ कर भाग लेने का आवाह्न किया गया । साथ ही साथ अधिक-से-अधिक वृक्षारोपण करने एवं पर्यावरण के प्रति जागरूक बनने का आग्रह करते हुए हर्बल पार्क, प्रशासनिक भवन, सुरंगानी में वृक्षारोपण का कार्यक्रम संपन्न किया गया। वृक्षारोपण कार्यक्रम के तहत जड्डू आवासीय परिसर में भी वृक्षारोपण किया गया।

 

 

Category:  Environment


 |    June 20, 2020 |   0 comment

एनएचपीसी निगम मुख्यालय में विश्व पर्यावरण दिवस 2020 का आयोजन

पृथ्वी के पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन के प्रति समर्थन प्रदान करने के उद्देश्य के साथ विश्व भर के देशों द्वारा 5 जून, 2020 को ” विश्व पर्यावरण दिवस ” उत्साहपूर्वक मनाया गया । इस वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस का विषय “जैव विविधता” है। इस वैश्विक आयोजन में अपनी प्रतिभागिता सुनिश्चित करते हुए एनएचपीसी निगम मुख्यालय, फरीदाबाद के साथ-साथ इसके विभिन्न परियोजना स्थलों पर 5 जून, 2020 को विश्व पर्यावरण दिवस का उत्साहपूर्वक आयोजन किया गया।

 

एनएचपीसी कार्यालय परिसर में जैव विविधता का प्रसार करने के उद्देश्य से नए बैंक परिसर के पास एक हर्बल पार्क का निर्माण कराया गया है। इस हर्बल पार्क का उद्घाटन श्री ए.के.सिंह, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक महोदय ने सभी निदेशकगण, मुख्य सतर्कता अधिकारी एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में किया।श्री ए.के.सिंह, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक महोदय, सभी निदेशकगण, मुख्य सतर्कता अधिकारी एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा कार्यालय परिसर में पौधरोपण किया गया। विश्व पर्यावरण दिवस- 2020 के विषय “जैव विविधता” के अनुरूप, विशेष तौर पर औषधीय महत्व के पौधे जैसे आंवला, घृतकुमारी , गिलोय, तुलसी, नींबू-घास, हल्दी, अश्वगंधा, शतावरी आदि का हर्बल पार्क में रोपण किया गया है ।आयोजन को और भी प्रासंगिक और उद्देश्यपूर्ण बनाते हुए इस अवसर पर कर्मचारियों के बीच औषधीय पौधों का वितरण किया गया।

 

एनएचपीसी निगम मुख्यालय एवं आवासीय परिसर के साथ-साथ सभी क्षेत्रीय कार्यालयों और परियोजनाओं में वृहत पैमाने पर विश्व पर्यावरण दिवस का उत्साहपूर्वक आयोजन करते हुए पौधरोपण किया गया ।सभी आयोजनों में केंद्र सरकार द्वारा जारी कोविड-19 के दिशानिर्देशों का अनुपालन करते हुए सामाजिक दूरी बनाए रखने का अनुपालन किया गया ।

Category:  Environment


 |    June 20, 2020 |   1 comment

एनएचपीसी की जम्मू कश्मीर स्थित परियोजनाओं में विश्व पर्यावरण दिवस 2020 के आयोजन की झलकियां

उड़ी पावर स्टेशन

उड़ी पावर स्‍टेशन में विश्‍व पर्यावरण दिवस हर्षोल्‍लास के साथ मनाया गया । पावर स्‍टेशन में इस अवसर पर पौधारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया । पावर स्‍टेशन के अधिकारियों और कार्मिकों ने उत्‍साह के साथ उपस्थित दर्ज की । उपस्थित सभी अधिकारियों व कार्मिकों को पर्यावरण संगत कार्य व्‍यवहार करने का संदेश दिया गया साथ ही इस आशय की जागरूकता आम जनमानस में भी उत्‍पन्‍न करने की अपील की गई।

 

किशनगंगा पावर स्टेशन

किशनगंगा पावर स्टेशन द्वारा पर्यावरणीय धारणीयता सुनिश्चित करने के उद्देश्य के साथ पौधरोपण कार्यक्रम द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जैव विविधता संरक्षण की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूकता, मानव जीवन में पर्यावरण का महत्व और पर्यावरण के प्रति जिम्मेदार रहने की अपील की गई। कोविड 19 के मद्देनजर उचित मानदंडों का अनुसरण करते हुए कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

 

 

 

सेवा II पावर स्टेशन

सेवा II पावर स्टेशन में विश्व पर्यावरण दिवस पर पौधरोपण अभियान का आयोजन किया गया। इसके तहत तक़रीबन 50 पौधों को पंक्तिबद्ध तरीके से रोपित किया गया। पहाड़ों में बढ़ती गर्मी को देखते हुए सभी कर्मचारियों व उनके परिवार के सदस्यों से आग्रह किया गया कि सभी बच्चों के जन्मदिन पर उनसे एक पौधा लगवा कर प्रकृति के प्रति उनके लगाव को बढ़ाने का प्रयास करें। प्रदुषण मुक्त पर्यावरण के प्रति द्वारा गैर पारम्परिक ईंधन से विद्युत उत्पादन पर किए जा रहे कार्यों पर चर्चा करते हुए पौधरोपण अभियान, कार्बन फुट प्रिंट कम करना, ऊर्जा / ईंधन कि बचत, प्लास्टिक व कागज के कम से कम उपयोग जैसे पर्यावरणीय पहलों पर कार्य करने कि अपील कि गई।

 

 

 

सलाल पावर स्टेशन

सलाल पावर स्टेशन द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर प्राकृतिक संतुलन को बनाए रखने के लिए वृक्षारोपण अभियान के तहत फील्ड हॉस्टल ज्योतिपुरम में पौधे लगाए गए। इस अवसर पर पौधरोपण को पर्यावरण दिवस तक ही सीमित न रखते हुए एक सतत प्रयास कि तरह व्यहवार में लाने का सन्देश दिया गया। पर्यावरणीय खतरा व्यक्तिगत नहीं अपितु वैश्विक मुद्दा है अतः समेकित प्रयास द्वारा ही इसका समाधान संभव है।

 

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर सलाल पावर स्टेशन में एक प्लास्टिक बेलिंग मशीन का उद्घाटन किया गया। ज्योतिपुरम में इस मशीन की स्थापना प्लास्टिक से होने वाले प्रदूषण के विरुद्ध एक सकारात्मक पहल है। मशीन का उपयोग गैर – विघटक ठोस कचरे को कॉम्पैक्ट आकार में सम्पीड़ित करने के लिए किया जाएगा जिसे आगे की रीसाइक्लिंग के लिए संकलित व परिवहन करना आसान रहेगा।

 

इस अवसर पर अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पौधे भी वितरित किए गए और साथ ही साथ पौधे की वृद्धि व अस्तित्व सुनिश्चित करने का अनुरोध भी किया गया। बच्चों में पर्यावरण जागरूकता हेतु ज़ूम ऍप के माध्यम से चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया।

 

 

 

दुलहस्ती पावर स्टेशन

दुलहस्ती पावर स्टेशन में पर्यावरण संरक्षण का सन्देश देते हुए तथा कोविड 19 महामारी से सम्बंधित सामजिक दूरी के मानदंडों का पालन करते हुए विश्व पर्यावरण दिवस का उत्साह के साथ आयोजन किया गया। इस अवसर पर पावर स्टेशन के फील्ड हॉस्टल प्रांगण में पौधरोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसके तहत फलदार पौधे लगाए गए। कार्यक्रम में सभी से अधिकाधिक पौधे लगाने तथा पर्यावरण संरक्षण हेतु जागरूकता फैलाने का आव्हान किया गया।

 

 

 

उड़ी-II पावर स्टेशन

उड़ी-II पावर स्टेशन में विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन उत्साह के साथ किया गया। इस अवसर पर कार्यालय सह आवासीय परिसर में पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण का सन्देश दिया गया। अधिकारियों एवं कार्मिकों द्वारा विभिन्न प्रकार के फलदार वृक्षों के पौधे लगाए गए। कोविड 19 महामारी के मद्देनजर जारी विभिन्न सुरक्षा निर्देशों का पालन करते हुए कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

 

Category:  Environment


 |    June 20, 2020 |   0 comment

एनएचपीसी की लद्दाख स्थित परियोजनाओं में विश्व पर्यावरण दिवस 2020 के आयोजन की झलकियां

निम्मो बाजगो पावर स्टेशन

निम्मो बाजगो पावर स्टेशन, अल्ची में विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन हर्षोलास के साथ किया गया। इस अवसर पर पावर स्टेशन के सभी अधिकारी और कर्मचारीगण द्वारा पौधरोपण कर प्रकृति एवं पर्यावरण के प्रति जिम्मेदारी व प्रतिबद्धता वयक्त की गई।कोविड 19 महामारी के प्रसार को देखते हुए सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन करते हुए सामाजिक दूरी के साथ मास्क पहन कर कार्यक्रम में भाग लिया गया।

 

 

 

Chutak Power Station

Environment Day was observed at Chutak Power Station. On the occasion,  the sapling plantation programme at Chutak Power Station Barrage Site was conducted. About 50 apricot saplings were planted on the Environment Day. All employees present at the Power Station actively participated in the plantation programme. COVID-19 norms of social distancing and other safety measures were adhered to during the plantation programme. 

Category:  Environment


 |    June 20, 2020 |   0 comment

एनएचपीसी की पश्चिम बंगाल स्थित परियोजनाओं में विश्व पर्यावरण दिवस 2020 के आयोजन की झलकियां

तीस्ता लो डैम III पावर स्टेशन

तीस्ता लो डैम III पावर स्टेशन में विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर पौधरोपण के कार्यक्रम का आयोजन किया गया। नवसर्जित रामबी पार्क में पाम का पौधा लगा कर जैविक खाद डाला गया और पौधरोपण की शुरुवात की गई । पावर स्टेशन के अधिकारियों द्वारा विभिन्न प्रकार के पौधे लगा कर उनमें जैविक खाद डाला गया। उपस्थित अधिकारियों व कर्मचारियों से जैव विविधता को बचाने की अपील की गई। कोविड 19 महामारी के प्रसार को देखते हुए सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन करते हुए सामाजिक दूरी के साथ मास्क पहन कर कार्यक्रम में भाग लिया गया।

 

Teesta Low Dam-IV Power Station

The World Environment Day, a global celebration campaign which take place on 5th June, every year for awareness and positive environmental impact, was observed at TLD-IV P.S., Kalijhora by NHPC officials in collaboration with CISF officials with he theme for this year’s celebrations of the World Environment Day i.e. “Biodiversity”.  In line with the theme for this year’s Environment Day “Biodiversity”, a total of 250 plant saplings were distributed to CISF officials for plantation of saplings at the Power House area during monsoon season. Saplings of plants such as Ashoka, Fox Tail Palm, Bottle brush, Gulmohar, X-Mas tree, Arica Palm, Neem, Indian Bay Leaf, Tree, Mango, Orange, Coconut, Gooseberry, Jackfruit, Black Plum, Lemon, Guava were distributed. During the occasion social distancing norms were followed by all. 

 

 

Category:  Environment


 |    June 20, 2020 |   0 comment

Shri A.K. Singh, CMD, NHPC became Vice-President of Indian Committee on Large Dams (INCOLD). He has also become a member of Editorial Board of INCOLD Journal.
#hydropower #nhpcltd

2

#hindikavismelan #hydropower #nhpcltd

https://t.co/CrTvQKeMAo

International Commission on Large Dams (ICOLD) Symposium on Sustainable Development of Dams & River Basins inaugurated by Jal Shakti Minister Shri @gssjodhpur and Power Minister Shri @RajKSinghIndia.
For details: https://t.co/46XteOAj3r

Shri R. K. Singh, Minister of State for Power (I/C) administered the Oath of Office and Secrecy to Shri Pravas Kumar Singh, Member, Central Electricity Regulatory Commission (CERC) today.

Details:
https://t.co/sB9vlHyybm

Power Cup 2021 (Delhi) T-20 cricket tournament inaugurated. #cricketforfitindia @MinOfPower @kirenrijiju
@ntpclimited @nhpcltd @pgcilindia @RECLindia
@PosocoIndia @pfclindia @RECLindia @EESL_India

2

#BetterInfra4BrightKerala

PM Shri @narendramodi inaugurates POWERGRID’s 320 kV 2000 MW Pugalur - Thrissur HVDC project; Also dedicates 50 MW Kasaragod Solar Power Project implemented by THDC India Ltd. to the Nation.

Details: https://t.co/xw2Qrpsrf1

Power and New and Renewable Energy Minister Shri @RajKSinghIndia said that energy transition is indispensable to reduce country’s dependence on imported fossil fuels and urged everyone to adopt electric appliances.

The 'Go electric campaign' will boost electric mobility and the use of electrical appliances across the country.

The Hon’ble Minister of Road Transport & Highways, Micro, Small & Medium Enterprises, Shri @nitin_gadkari ji and the Minister of State (IC) for Power and New & Renewable Energy, Shri R K Singh ji, launched the ‘Go Electric campaign’ today.

2

#ElectricVehicles

Transport Minister Shri @nitin_gadkari launches ‘Go Electric’ Campaign in the august presence of Power Minister Shri @RajKSinghIndia

Details: https://t.co/qFYn8vqTGd

Launch of the “Go Electric” Campaign to spread awareness on the benefits of e-mobility and EV Charging Infrastructure as well as electric cooking in India.
https://t.co/M986IFhY01

PM to inaugurate and lay foundation stone of key projects of power and urban sector in Kerala on 19th February.

@PMOIndia @RajKSinghIndia @MinOfPower

Details: https://t.co/ibiPJGqd8z

CMD, NHPC with Hon’ble Lt. Governor of UT of Ladakh.
#hydropower @lg_ladakh @R_K_Mathur #nhpcltd

Load More...